ध्यान करने के 5 आसान तरीका | How to Meditate in Hindi (2023)

इस लेख में आप जानेगें- How to Meditate in hindi, ध्यान कैसे करें, Meditation Kaise kare, Dhyan karne ke fayde,Dhyan Kaise Karen, Meditation Karne ka Tarika, How to Meditate in Hindi for Beginners, Book on How to Meditate,Yoga How to Meditate

मेडिटेशन या ध्यान करना तन-मन के स्वास्थ्य के लिए सबसे अच्छा माना जाता है। दुनिया की सभी प्रसिद्ध और महान हस्तियों ने प्राचीन और आधुनिक काल में इनका पालन करके, इनके लाभ और महत्व को माना है। नियमित रूप से 1-2 महीने में आपको इसके फायदे दिखने लगेंगे।

आज इस लेख में हम आपको बतायेंगे कि How to Meditate in hindi मेडिटेशन कैसे करते हैं? इसके साथ ही कब और किस स्थान पर करना चाहिए जिससे हमें मैडिटेशन के सभी फायदे मिल सकें।

आज की भग-दौड़ भेरी जिंदगी में ज्यादातर लोग गुस्सा, ईर्ष्या, और मन में आने वाले गलत विचारों के कारण परेशान हैं इससे हमेशा के लिए छुटकारा पाने के लिए मेडिटेशन एक सबसे असरदार तरीका है।

Table of Contents

How to Meditate in hindi- ध्यान कैसे करें

मेडिटेशन करना देखने में जितना आसान लगता है लेकिन वास्तव में उतना आसान होता नही है। क्योंकि मेडिटेशन एक ऐसी मुद्रा होती है जिसमे तन और मन को एकाग्रता के साथ शांत रखना होता है।

लेकिन आज हम आपके साथ मेडिटेशन करने के 5 आसान तरीके साझा करने जा रहे हैं जिसकी मदद से आप बहुत ही आसानी से मेडिटेशन करना सीख सकते है, तो चलिए जान लेते है उन 5 आसान तरीकों के बारे में……. How to Meditate in hindi

निश्चित समय का चुनाव करें

अगर आप एक Begginer है और यह सोच रहें है कि How to Meditate, इसके लिए सबसे पहले आपको मेडिटेशन करने के लिए एक निश्चित समय का चुनाव करना चाहिए। शुरूआती समय में आप अपनी सुविधा के अनुसार किसी भी समय मेडिटेशन कर सकते हैं।

लेकिन मेडिटेशन करने के लिए सबसे अच्छा समय सुबह का होता है जब वातावरण के साथ-साथ मन भी पूरी तरह से शांत होता है, सुबह के समय मन में कोई भी नकरात्मक विचार नही होता है इसलिए इस समय ध्यान को केन्द्रित करना दिन के मुकाबले आसान होता है।

इसलिए सम्भव हो तो मेडिटेशन करने के लिए सुबह का समय ही निर्धारित करें जिससे आपको मेडिटेशन के लाभ जल्दी मिल सकें।

शांत वातावरण का चुनाव करें

ध्यान करने के 5 आसान तरीका | How to Meditate in Hindi (1)

ध्यान करना यानी सभी तरह के शोर-सराबे से अलग बैठ कर अपने मन को एक जहग केन्द्रित करना, यह तभी तभी संभव हो सकता है जब आप ध्यान करने के लिए एक शांत वातावरण का चुनाव करेंगे।

ध्यान के लिए एक ऐसा साफ एवं शांत स्थान ढूँढे जहाँ आप अलग से बैठकर निर्बाधित रूप से ध्यान कर सकें। अपने लिए एक ऐसा पवित्र स्थान बनायें जो मात्र आपके ध्यान के अभ्यास के लिए ही हो। ऐसा करने से आप आसानी से अपने अपने मन को एकाग्र कर पायेंगे और आपको ध्यान के फायदे भी मिल सकेंगे।

सही वस्त्रों का चुनाव करें

मेडिटेशन करने के लिए जितना आवश्यक है निश्चित समय और शांत वातावरण, उतना ही जरुरी है सही वस्त्रों का चुनाव करना। मेडिटेशन करने के लिए हमेशा ढीले और आरामदायक कपडे पहने जिससे ध्यान करते समय सांस लेने में कोई दिक्कत न हो । बहुत ज्यादा फिटिंग के कपडे पहन कर मेडिटेशन करने से रक्त प्रवाह में समस्या होती है जीसे आप अपने ध्यान को केन्द्रित नही कर पायेंगे।

इसलिए हमेशा ऊनी या सिल्क का आसन बिछा कर पालथी मारकर बैठें। यह आपकी चेतना के प्रवाह को नीचे की ओर खींचने वाले धरती के सूक्षम प्रवाहों को अवरुद्ध करता है। जिससे आप आसानी से ध्यान को केन्द्रित कर सकते हैं। इसलिए मेडिटेशन करने के लिए सही वस्त्रों का चुनाव करना बहुत जरुरी हो जाता है।

सही आसन में बैठे

मेडिटेशन करने के लिया आप अंदर या बाहर किसी भी स्थान को चुन सकते हैं इसके लिएआप फर्श पर बैठ सकते हैं, कुशन पर, कुर्सी, या कुछ और जो आपके लिए आरामदायक हो। अगर आप एक Beginners हैं तो एक सीधी कुर्सी का उपयोग करना मेडिटेशन की क्रिया को आसान बना देता है।

कुर्सी की मदद से आपको सही मुद्रा में बैठने में मदद मिलेगी, पीठ सीधी रहेगी, गर्दन रिलेक्स होगी, ठुड्डी थोड़ी अंदर की ओर रहेगी, इसके अलावा अपने हाथों को अपनी गोद या घुटनों पर आराम से रखें।

समय- How to Meditate in hindi

आप कितने समय तक ध्यान करना चाहते हैं यह आपकी प्राथमिकताओं, परिस्थितियों और आपके समय पर निर्भर करता है। पहली बार जब आप शुरू करेंगें तो आप 10 मिनट से शुरू करें। फिर आप इसे 15 या 20 मिनट तक प्रैक्टिस कर सकते हैं। इसके साथ ही आप अपनी एकाग्रता के अनुसार समय को 30 से 45 मिनट तक भी बढ़ा सकते हैं।

यदि 10 मिनट के लिए मौन बैठना शुरूआत में आपको भारी लगता है, तो आप इसे 3-5 मिनट से शुरुआत कर सकते हैं इसमें कोई बुराई नहीं है। लेकिन मेडिटेशन में जो सबसे जरुरी है वो है निरंतरता आपको इसे रोज एक निर्धारित समय पर प्रैक्टिस करना हैं।

वजह स्पष्ट होनी चाहिए

ध्यान करने के लिए आपके पास एक ठोस वजह होनी चाहिए। जो आपके ध्यान की यात्रा को शुरू करने में मददगार साबित होगी। यदि आपके पास कोई ठोस वजह नहीं है कि आप ऐसा क्यों कर रहे हैं, तो बहुत ज्यादा चान्स है कि आप इसे कुछ दिनों के बाद छोड़ देंगें या आपको दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है।

आप मेडिटेशन से क्या प्राप्त करना चाहते हैं, इसके बारे में स्पष्ट होना जरुरी है – चाहे वह खुश महसूस करना हो, शांत महसूस करना हो, अधिक ध्यान केंद्रित करना हो, या तनाव को कम करना हो, आदि – अपने मन को सही रास्ते पर ले जाने में बड़ी मदद होगी। How to Meditate in hindi

इसे भी पढ़ें – जाने योगासन के बेहतरीन फायदे

ध्यान लगाने के लिए करें ये उपाय

सुबह खाली पेट करें ध्यान- How to Meditate in Hindi

ध्यान करने से पहले कोशिश करें की आपका पेट पूरी तरह से खाली। जिससे आपकी उर्जा सिर्फ आपके ध्यान पर केन्द्रित हो सके। ऐसा करने से आपको ध्यान लगाने में आसानी होगी और अगर आपने अभी अभी ध्यान करने का अभ्यास प्रारंभ किया है तो आप सहेजता से ध्यान कर पायंगे।

मेरुदंड सीधा रखें- How to Meditate in Hindi

ध्यान लगाते समय आपका मेरुदंड सीधा होना चाहिए। जब भक्त अपने मन और प्राण-शक्ति को मेरुदंड में चक्रों से होते हुए उधर्व चेतना की ओर भेजने के लिए प्रयासरत होता है तो उसे अनुचित आसन के कारण मेरुदंड की नाड़ियों में कोई सिकुड़न व संकुचन नही होना चाहिए।

वे लोग जिनके पैरों में दर्द नहीं होता उनके लिए सपाट पलंग पर या ज़मीन पर गद्दी लगाकर पालथी मारकर बैठना बेहतर है।

ध्यान के कुछ निम्न प्रकार के आसन

एक बिना हत्थे की कुर्सी पर इस प्रकार बैठें कि आपके पांव जमीन पर सपाट रखें हों। मेरुदंड सीधा हो, पेट अंदर की ओर, छाती बाहर की ओर और कंधे पीछे की ओर होने चाहिए।

इसके साथ ही ठुड्डी ज़मीन के समानान्तर हो। हथेलियाँ ऊपर की ओर रखते हुए, दोनों हाथों को जांघ और पेट के संधि स्थल पर रखें ताकि शरीर को झुकने से रोका जा सके।

आसन सही होने पर है शरीर स्थिर और तनाव रहित रहेगा, और बिना एक भी मांसपेशी को हिलाये इसे पूर्ण रूप से कर पाना संभव हो सकेगा।

अब, अपने नेत्र बंद करें और अपनी दृष्टि को धीरे से, बिना किसी तनाव के, माथे के केंद्र बिंदु में ध्यान लगायें।

मेडिटेशन/ध्यान के फायदे|Benefits of Meditate in Hindi

  • ध्यान से मन और शरीर की चंचलता, कम होती है और मन शांत और सकारात्मक उर्जा से भर जाता है।
  • मेडिटेशन करने से नर्वसनेस या घबराहट दूर होती है और आप कठिन परिशितियों के लिए तैयार हो जाते है।
  • मेडिटेशन से जीवन में नियम और अनुशासन का पालन करना संभव बन जाता है।
  • मेडिटेशन से रचनात्मकता बढती है और बुद्दी का विकास होता है।
  • मेडिटेशन करने से कोई समस्या या तनाव आप पर हावी नहीं हो पाता है।

तो दोस्तों अगर आप ध्यान लगाने की प्रक्रिया को प्रारंभ करने की सोच रहे है तो इस लेख को पढने के बाद आपके सभी संकाएँ दूर हो गई होंगीं जैसे की How to Meditate in Hindi, Benefits of Meditate in Hindi तो आपको ये लेख और इसमें बताई गई जानकारी कैसी लगी हमें कमेंट करके जरुर बताये।

धन्यावाद ………

मेडिटेशन करने का सही समय कौन सा होता है?

वैसे तो आप अपनी सुविधा के अनुसार मेडिटेशन किसी भी वक्त कर सकते है लेकिन सुबह का समय मेडिटेशन के लिए अच्छा माना जाता है। जिसमे अगर आप ब्रम्ह्मुहुर्त में यानी की सुबह के 4:00 बजे से 6:00 बजे के बीच मेडिटेशन करते है तो आपको इसके सबसे लाभकारी परिणाम मिलते हैं।

मेडिटेशन कितनी देर करना चाहिए?

शुरुआत के 10 दिनों तक 5 मिनट की अवधि का मेडिटेशन करें
उसके बाद इसका समय बढ़ा कर 10 मिनट कर दें
1 महीने के बाद आप 20 से 25 मिनट तक का मेडिटेशन करें।
3 महीनो के बाद आप 30 से 45 मिनट तक का मेडिटेशन करने के लिए आप दिमाग और मन तैयार हो जयेगा, जो एक अच्छा समय माना जाता है है मेडिटेशन करने के लिए।

कितने समय में मेडिटेशन का लाभ मिलता है?

मेडिटेशन का लाभ किसको कितने समय में मिलेगा ये उसकी मानसिक अवस्था पर निर्भर करता है।
जहाँ शांत और सकारात्मक विचार रखने वाले लोगों को मेडिटेशनका लाभ 3 से 5 महीनो में मिलने लगता है।
वहीँ गुसैल, ईश्यावान,और नकारात्मक विचार रखने वाले लोगों को इसके परिणाम मिलने में 7 से 10 महीने भी लग सकते है। इसलिए मेडिटेशन के लाभ जल्दी पाने के लिये मन को ‍‌शांत और स्थिर रखने का प्रयास करें।

मेडिटेशन करते समय मन भटके तो क्या करें?

Ms. Brach. कहती है मेडिटेशन करते समय मन का भटकना स्वाभाविक है। इसको करते समय आप कभी भविष्य के सपने देखते है। तो कभी कभी गुजरे हुए कल के बारे में सोचेंगे,मेडिटेशन करते समय आपको खुजली का अनुभव भी हो सकता है।

Top Articles
Latest Posts
Article information

Author: Nicola Considine CPA

Last Updated: 12/18/2022

Views: 5443

Rating: 4.9 / 5 (49 voted)

Reviews: 88% of readers found this page helpful

Author information

Name: Nicola Considine CPA

Birthday: 1993-02-26

Address: 3809 Clinton Inlet, East Aleisha, UT 46318-2392

Phone: +2681424145499

Job: Government Technician

Hobby: Calligraphy, Lego building, Worldbuilding, Shooting, Bird watching, Shopping, Cooking

Introduction: My name is Nicola Considine CPA, I am a determined, witty, powerful, brainy, open, smiling, proud person who loves writing and wants to share my knowledge and understanding with you.